दिल्ली-CBI के दो उच्च पदस्थ अधिकारियों आलोक वर्मा और राकेश अस्थाना के बीच अदावत चरम पर पहुंचने के बाद अब नई और चौकाने वाली बात सामने आई है,सूचना का अधिकार(RTI) से पता चला कि सूरत में अस्थाना ने पुलिस वेलफेयर के 20 करोड़ रुपए भाजपा को चुनावी फंड में दिए थे।
 सूरत के रिेटायर्ड पीएसआई ने 23 अक्टूबर को सीबीआई को किए चौंकाने वाले ई मेल में बताया कि अस्थाना ने पुलिस के वेलफेयर फंड से 20 करोड़ रुपए भाजपा को चुनावी चंदे के रूप में दिए थे सूरत पुलिस के एकाउंट में सन् 2013-2015 के दौरान वे रुपए वापस नहीं आए थे उस समय नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे सूरत शहर के पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना का यह सबसे बड़ा घोटाला था।
रिटायर्ड पीएसआई के अनुसार पुलिस वेलफेयर के 20 करोड़ के ट्रांसफर के मामले में आयकर विभाग ने टीडीएस के भुगतान का नोटिस दिया था इसके बाद कार्यालय से पुलिस वेलफेयर फंड के कागजात गुम हो गए इसकी सूचना सूरत क्राइम ब्रांच में भी दी गई ऑडिट विभाग की जानकारी में भी यह मामला लाया गया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here